Sitarganj

किशोरी से छेड़खानी के बाद हुआ था सामूहिक दुष्कर्म

सितारगंज। थारु जनजाति की किशोरी से छेड़खानी के बाद जान देने के मामले में दो आरोपियों के सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पुलिस ने दोनों आरोपियों पर सामूहिक दुष्कर्म और पॉक्सो में केस दर्ज किया है। कोतवाल ने बताया कि किशोरी का पोस्टमार्टम कराने के बाद डीएनए सुरक्षित रखा जाएगा और आरोपियों के डीएनए से मिलान भी करेंगे।

रविवार को कोतवाल सलाहउद्दीन ने पुलिस टीम के साथ बिज्टी कैलाश नदी किनारे चिता जलने से पहले किशोरी के शव को कब्जे में लिया था। इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए खटीमा भेजा था। देर रात किशोरी के पिता ने पुलिस को तहरीर दी। कोतवाल सलाहउद्दीन ने बताया कि तहरीर में पिता ने बताया कि किशोरी 20 मार्च की रात करीब नौ बजे घर के पास खेत में शौच के लिए गई थी। गांव के पवन राणा और शिव कुमार ने उसके साथ छेड़खानी कर सामूहिक दुष्कर्म किया। किशोरी ने घर आकर आप बीती बताई। इस पर उन्होंने गांव के प्रधान और आरोपियों के मां-बाप को बताया तो उन्होंने पंचायत करने की बात कही। इस पर रविवार को पंचायत हुई। पंचायत में मामला सुलझने से आहत किशोरी शाम करीब चार बजे घर में ही फांसी लगाकर जान दे दी। कोतवाल ने बताया कि आरोपियों पर धारा 354, 376 डी और 306 के अंतर्गत केस दर्ज कर महिला दरोगा निर्मला पटवाल को जांच सौंपी है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा। इधर, पूर्व विधायक नारायण पाल ने मृतका के घर पहुंचकर शोक जताया।

Show More

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker